Uncategorized

राजकाज में चौबीस दिन तक मात्र एक घंटा मिला सोने का मौका – डा० पी. एन. मिश्र, अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज कल्याण समिति के अभिनन्दन समारोह में उदगार मीरजापुर

मीरजापुर। राम जन्मभूमि के विवादित परिसर के पक्ष में प्रमाणों के साथ साक्ष्य रखने का मौका भगवान राम की कृपा से ही मिला । चौबीस दिन तक बहस के दौरान मात्र एक घंटा सोने का मौका मिलता था। इसके बावजूद अपार शक्ति मिल जाती थी। उक्त बातें अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज कल्याण समिति के तत्वावधान में आयोजित अभिनन्दन समारोह में उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता एवं रामलला के वकील डा० पी.एन. मिश्र ने कही। उन्होनें कहा कि अगर ढांचा न गिराया गया तो यह अवसर भी नहीं मिलता।
श्री मिश्र विन्ध्यवासिनी महाविद्यालय में आयोजित विप्र पूजन एवं सम्मान समारोह में बोल रहे थे।

उन्होनें कहा कि मेरा सौभाग्य है कि भगवान ने अपने काज के लिए पहले से ही तय कर लिया था। इसलिए पहले से ही विभिन्न धर्मो की पुस्तकें पढने की रुचि रही हैं। कोलकाता में वकीलों की 2009 में हुई बैठक में कहा गया कि हिन्दू हार रहे हैं। इस दौरान मुझे पैरवी करने को कहा गया। समय कम था, इस बीच बेंच के एक जज का स्थानान्तरण होने के बाद मुझे समय मिला और रामकाज में बहस करने का अवसर मिला। कहा कि आरम्भ से ही हिन्दू और मुस्लिम लेखकों की किताबें पढ़ने की आदत से मिला ज्ञान विवादित मामलें में सहायक बना। बाबर के आने के पूर्व में भी रामजन्म भूमि स्थल पर पूजा अर्चना का उल्लेख मिलता हैं। इन सभी प्रमाणों के बल पर राम जन्मभूमि के विवादित परिसर का फैसला जनमानस के अनुकूल आया।
कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि डा० पी०एन० मिश्र, विशिष्ट अतिथि नगर विधायक प० रत्नाकर मिश्र, गुलाब शंकर दिवेदी,कैलाशनाथ दुबे, डा०गणेश प्रसाद अवस्थी ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलन करके किया। इस मौके पर ओम प्रकाश दुबे ,कैलाशनाथ दुबे, गंगासागर दुबे, बालेन्दु मणि त्रिपाठी,रत्नेश दुबे, अश्विनी त्रिपाठी, श्रीधर पाण्डेय, डा० टी.एन. दिवेदी,
विजय दुबे, पीडी दिवेदी, रत्नेश दुबे, शरद मालवीय, अवधेश त्रिपाठी, शशि भूषण पाण्डेय, रमेश दुबे, भरतलाल, राजू पाण्डेय, प्रभाकर पाण्डेय आदि प्रमुख रुप से उपस्थित थे।
कार्यक्रम का संचालन विष्णु नारायण मालवीय एवं डा० संजय मिश्र ने किया। अतिथियों का स्वागत डा० नीरज त्रिपाठी एवं धन्यवाद ओम प्रकाश दिवेदी ने ज्ञापित किया।

One Reply to “राजकाज में चौबीस दिन तक मात्र एक घंटा मिला सोने का मौका – डा० पी. एन. मिश्र, अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज कल्याण समिति के अभिनन्दन समारोह में उदगार मीरजापुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *